Haryana Pension Increase: मनोहर लाल ने दिया नए साल का तोहफा, बुढापा पेंशन में की बढ़ोतरी, अब इतनी मिलेगी पेंशन

Haryana Pension Increase: मुख्यमंत्री मनोहर लाल सिंह खट्टर ने एलान किया कि हमारी प्रशासनिक नीतियों के तहत हमने पेंशन राशि को बढ़ाकर ₹2750 कर दी है, जो पहले ₹1000 थी। साथ ही, जनवरी 2024 से मासिक पेंशन को ₹3000 में बढ़ाया जाएगा। हरियाणा सरकार ने पेंशन की पात्रता में संशोधन कर ₹2 लाख से ₹3 लाख तक की आय सीमा बढ़ा दी है।

Haryana Pension Increase: बुढापा पेंशन में की बढ़ोतरी

मुख्यमंत्री ने यह बताया कि एक समय था जब बुढ़ापा पेंशन प्राप्त करने के लिए लोगों को बहुत ही कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था, लेकिन अब परिवार पहचान पत्र के माध्यम से स्वयं 60 वर्ष के व्यक्तियों को पेंशन स्वीकृत हो जाती है। सरकार ने इस प्रक्रिया को सुगम बनाया है और इसके परिणामस्वरूप 2022 से लेकर आज तक लगभग 180,000 लोगों को ऑटोमेटिक पेंशन का लाभ मिला है।

Haryana Pension Increase: अब इतनी मिलेगी पेंशन

इसके अलावा, बुजुर्गों के लिए वृद्धावस्था पेंशन को ₹3000 किया गया है, जो पहले ₹2750 थी। 1 जनवरी 2024 से हरियाणा में पेंशन में बड़ी वृद्धि होगी। इसके अतिरिक्त, सीएम खट्टर ने 80 साल से अधिक आयु के अकेले रहने वाले नागरिकों के लिए सेवा आश्रम योजना की शुरुआत की है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Haryana Pension Increase Check Notification: Click Here

इस योजना के तहत, 80 साल से अधिक बुजुर्गों के लिए वरिष्ठ नागरिक सेवा आश्रम बनाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में 80 वर्ष से अधिक आयु वाले कई बुजुर्ग अकेले रह जाते हैं, और उनकी देखभाल के लिए वरिष्ठ नागरिक सेवा आश्रमों की योजना बनाई गई है। इसके अनुसार, सरकार ने जिले में सेवा आश्रमों की बनावट के लिए काम शुरू किया है, जो 14 जिलों में स्थापित होंगे।

इस अवसर पर सांसद रमेश चंद्र कौशिक, दीनबंधु छोटू राम, विश्वविद्यालय के कुलपति मनोज कुमार, विधायक मोहनलाल कौशिक, निर्मल चौधरी, और समिति जिला प्रशासन के सभी अधिकारी उपस्थित थे।

 

Hike In Old Age Pension To ₹3,000 Soon, Haryana CM Manohar Lal Khattar

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए मासिक पेंशन को ₹2,750 से बढ़ाकर ₹3,000 करने का एलान किया है। राज्य वृद्ध नागरिकों को सबसे अधिक पेंशन प्रदान करता है, और बैंक परिवार पहचान पत्र डेटा के आधार पर स्वचालित रूप से जनित होता है। मुख्यमंत्री ने पेंशन प्रमाणपत्रों को भी वितरित किया, और हाई-टेंशन तारों को हटाने के लिए ₹151 करोड़ का आवंटन भी किया है।

हिसार में, चौधरी चरण सिंह ने हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में आयोजित जन संवाद कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा राज्य में सबसे अधिक पेंशन वृद्ध नागरिकों को प्रदान करता है। उन्होंने बताया कि जब कोई व्यक्ति 60 वर्ष का हो जाता है, तो उसके परिवार को भत्ता प्राप्ति पत्र (पीपीपी) डेटा के आधार पर स्वतंत्र रूप से प्राप्त होता है, और वृद्ध नागरिकों को इसके लिए आवेदन करने में कोई कठिनाई नहीं होती।

उसी अवसर पर, खट्टर ने 22 व्यक्तियों को पेंशन प्रमाण पत्र वितरित किए।

हाल ही में, राज्य सरकार ने विकलांग और अविवाहित व्यक्तियों को भी सामाजिक सुरक्षा पेंशन के दायरे में शामिल कर दिया है। हरियाणा में 45 से 60 वर्ष की आयु वर्ग के अविवाहित व्यक्तियों को अब मासिक 2,750 रुपये की पेंशन प्रदान की जाती है, यहां तक कि उनके परिवार की वार्षिक आय 1.8 लाख रुपये से कम हो।

More Information For Visit : Family ID Haryana

सभी खबर सबसे पहले पाने के लिए हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करे: Join

 

 

Leave a comment

×