लोक नृत्य दलों के पंजीकरण हेतु आवेदन आमंत्रित, अंतिम तिथि 29 फरवरी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Applications invited for registration of folk dance groups, last date 29 February: (लोक नृत्य दलों के पंजीकरण हेतु आवेदन आमंत्रित, अंतिम तिथि 29 फरवरी)

कला और सांस्कृतिक कार्य विभाग हरियाणा ने एक सूचना जारी की है, जिसमें डीआईपीआरओ सतीश कुमार ने जानकारी दी है।

31 जनवरी को, झज्जर में, कला और सांस्कृतिक कार्य विभाग हरियाणा ने झज्जर जिले सहित हरियाणा के अन्य जिलों से लोकनृत्य दलों के पंजीकरण के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इच्छुक उम्मीदवार 29 फरवरी तक विभाग की मेल आईडी artandculturalaffairshry@gmail.com पर आवेदन कर सकते हैं। राज्य में पंजीकृत लोक नृत्य दलों को ही विभाग द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भाग लेने का अवसर मिलेगा।

यह भी पढ़ें: हरियाणा में बड़े स्तर पर पुलिस कर्मचारियों के हुए तबादले, देखिए पूरी सूची

डीआईपीआरओ सतीश कुमार ने बताया कि टीम लीडर और सह-कलाकारों को संबंधित जानकारी देना आवश्यक है। कोरियोग्राफर और टीम लीडर के नृत्य संबंधित दस्तावेज़ लाना आवश्यक है। कोरियोग्राफर की न्यूनतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए और सह-कलाकार की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। एक दल में पंजीकृत सदस्य सिर्फ अपने दल में ही प्रस्तुति दे सकता है, अन्यथा पंजीकरण रद्द किया जा सकता है। सदस्य पर किसी पुलिस या कोर्ट केस का न होना चाहिए, अन्यथा पंजीकरण रद्द किया जाएगा और उसे किसी भी कार्यक्रम में भाग नहीं लेने दिया जाएगा। सभी कलाकारों को पारंपरिक और साफ-सुथरे वेशभूषा में प्रदर्शन करना है। दलों को अग्रिम और नकद राशि नहीं मिलेगी, बल्कि राशि का भुगतान कलाकार के व्यक्तिगत बैंक खाते में सीधे किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: एलपीजी-फास्टैग से लेकर मनी ट्रांसफर तक कल बजट के दिन देश में लागू होंगे ये 6 बड़े बदलाव

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

डीआईपीआरओ सतीश कुमार ने बताया कि मानदेय अदायगी हेतु बिल व सम्बंधित दस्तावेज टीम लीडर द्वारा सत्यापित होने चाहिए। बिलों में कटिंग व व्हाइटनर का प्रयोग नहीं होना चाहिए।

पंजीकरण के लिए मूल दस्तावेज जैसे आधार कार्ड, बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ, कैंसेलेल्ड बैंक चेक, पैन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो तथा उनकी प्रतियां साथ लाना अनिवार्य है।

एक कलाकार केवल एक ही दल में अपना पंजीकरण करवा सकता है। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए विभाग के कार्यालय एस.सी.ओ. 29, पहली मंजिल, सेक्टर-7 सी, मध्य मार्ग, चंडीगढ़ अथवा आप नंबर 6239573353 या 9728970819 पर संपर्क कर सकते हैं।

उन्होंने कलाकारों से ज्यादा संख्या में आवेदन का आह्वान किया है।

यह भी पढ़ें: हरियाणा में बड़े स्तर पर पुलिस कर्मचारियों के हुए तबादले, देखिए पूरी सूची

लोक नृत्य क्या हैं (What Are Folk Dances?)

नृत्य, कला और संस्कृति भारतीय समृद्धि का हिस्सा हैं। भारत के लोक नृत्य को संगीत नाटक अकादमी और संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त विशेष नृत्य माना जाता है। भारतीय लोक नृत्य समृद्धि को एक विशेष पहचान प्रदान करते हैं।

भारत अपनी समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर के लिए मशहूर है। देश की विविधता ही उसकी पहचान है। भारतीय नृत्य हमारी संस्कृति की श्रेष्ठ पहचानों में से एक है। भारत में नृत्य को शास्त्रीय और लोक रूपों में विभाजित किया जा सकता है। इन नृत्य रूपों की उत्पत्ति स्थानीय परंपराओं से जुड़ी है, जो भारत के विभिन्न हिस्सों से आती हैं।

यह भी पढ़ें:

Leave a comment

Floating WhatsApp Button WhatsApp Icon